Movie prime
अब ड्रेगन फ्रयूट की खेती पर सरकार दे रही है इतने लाख की सब्सिडी ,ऐसे करे जल्द आवेदन
 

किसानो की आय बढ़ाने के लिए सरकार की ओर से कई तरह के प्रयास किए जा रहे हैं इसके लिए सरकार किसानों को परंपरागत खेती छोड़ कर उद्यानिकी और मसाले फसल के लिए प्रोत्साहित कर रही है इसी के तहत अब किसानों को ड्रैगन फ्रूट की खेती के लिए भी सरकार की सब्सिडी का लाभ प्रदान किया जा रहा है हरियाणा सरकार की ओर से ड्रैगन फ्रूट की खेती करने के लिए सरकार की ओर से राज्य के किसानों को करीब 1 पॉइंट 2000000 रुपए की सब्सिडी दी जा रही है। 

ड्रैगन फुट भारतीय फल नहीं है लेकिन इसका टेस्ट लाजवाब है इसके गुणकारी  लाभों की वजह से ही भारत में इसकी  काफी मांग भी बढ़ गई है यही वजह है कि हमारे देश में पंजाबा ,महाराष्ट्र , उत्तर प्रदेश,छत्तीसगढ़ आदि राज्य में ड्रेगन फ्रयूट  का सर्वाधिक उत्पादन हो रहा है ड्रैगन फ्रयूट का उपयोग ताजे फल के रूप में करने के साथ ही इसका उपयोग जेम ,आइसक्रीम जैली प्रोडक्शन, फ्रूट ज्यूस, वाइन आदि बनाने में किया जाता है  यह फल खाने में तो टेस्टी होते हैं साथ ही कई रोगो को भी ठीक करने की क्षमता रखता है भारत में ड्रैगनफ्रयूट की कीमत   200 से ढाई ₹100 प्रति किलो है यह फल उन  जगहों पर भी काफी अच्छी तरह से उगता है जहां पर कम बारिश होती है। 

किसान इसकी खेती करके लाखों रुपए कमा सकते हैं हरियाणा सरकार की ओर से किसानों को विभिन्न फलों के बाग लगाने के लिए सब्सिडी का लाभ प्रदान किया जाता है इस योजना के तहत ड्रैगन फ्रूट ,बेल्जियम नींबू ,अनार, अंगूर के उत्पादन के लिए सरकार की तरफ से सब्सिडी दी जा रही है इस योजना के तहत पौधारोपण के लिए ₹50000 एवं ट्रेललिसिंग सिस्टम के लिए ₹70000 प्रति एकड़ के हिसाब से दिए जाएंगे। 

 पौधारोपण के लिए ₹50000 का अनुदान तीन किस्तों से प्रथम वर्ष ₹30000 ,दूसरे और ₹10000 व तीसरे वर्ष ₹10000 दिए जाएंगे अनुदान राशि किसान को अधिकतम 10 एकड़ तक दी जाएगी  किसान ड्रैगन फ्रूट की खेती पर सब्सिडी लेने के लिए 'मेरी फसल मेरा ब्योरा' पोर्टल पर पंजीकरण करवा सकते हैं 'अनुदान पहले आओ पहले पाओ' के आधार पर दिया जाएगा बागवानी विभाग की वेबसाइट पर जाकर आवेदन करके इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।