Movie prime

इस जगह हो रहा है किसान मेले का आयोजन ,मिलेगी किसानो को खेती की नई टेक्निक की जानकारी

 

देश के किसानों को समय-समय पर कृषि क्षेत्र में आने वाली नई तकनीक के बारे में अवगत कराने के लिए किसान मेले का आयोजन किया जाता है। किसान  मेले के  माध्यम से किसानों को कृषि क्षेत्र विकसित नए तरीको के बारे में बताया जाता हैऔर किसानो को प्रशिक्षण भी दिया जाता है। किसानों को कृषि क्षेत्र में विकसित नवाचारों की जानकारी दी जाती है जिससे किसान विकसित तकनीक से खेती करके अपनी आय बढ़ा सकें।  इसी कड़ी में अब मध्य प्रदेश के मुरैना जिला में किसान मेले का आयोजन हो रहा है। किसान मेले के दौरान इसमें हजारों किसान शिरकत करेंगे और कृषि क्षेत्र में नई तकनीक के साथ-साथ खेती से जुड़े नए गुण भी सीखेंगे।आज हम  किसानों को इस मेले से जुड़ी पूरी जानकारी देते हैं। 

जानें, मुरैना किसान मेला आयोजन से संबंधित अन्य जानकारी 

मध्यप्रदेश के मुरैना में 11 ,12 और 13 नवंबर को तीन दिवसीय किसान मेले का आयोजन किया जाएगा। मेले का आयोजन पुलिस परेड ग्राउंड में किया जा रहा है किसान मेले में मध्य प्रदेश  ग्वालियर, शिवपुरी, श्योपुर, भिंड और मुरैना व उसके आसपास के जिलों से लगभग 30 से 35 हजार किसानों के शामिल होने का अनुमान है। किसान मेले में आने वाले किसानों को कृषि क्षेत्र में विकसित आधुनिक टेक्नोलॉजी और नई मशीनों  का उपयोग करने के बारे में प्रशिक्षण दिया जाएगा। केंद्रीय कृषि मंत्रालय के तहत आयोजित होने वाले इस तीन दिवसीय किसान मेले की तैयारियों का जायजा लेने केंद्रीय कृषि एंड किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर मुरैना जिले में पहुंचे। कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किसान मेले में होने वाले कार्यक्रम की तैयारियों का निरीक्षण किया व कार्यक्रम की तैयारियों को देख रहे अधिकारियों को जरूरी दिशा-निर्देश भी दिए कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि भारत सरकार और राज्य सरकार मिलकर इस किसान मेले का आयोजन कर रहे  हैं। इस मेले में देश -परदेश से कृषि क्षेत्र में काम कर रहे कई तरह के स्टार्टअप्स आएंगे किसान मेला चंबल ग्वालियर क्षेत्र के किसानों के लिए बहुत सारे फायदे लेकर आएगा। मुरैना व आसपास के क्षेत्रों के लिए यह कृषि मेला ऐतिहासिक होगा।  किसान मेले के माध्यम से क्षेत्र के किसानों को कृषि क्षेत्र में विकसित नई तकनीकों और की उन्नत खेती के बारे में जानकारी दी जाएगी। 

किसान मेले में किसानो के लिए होंगे इंतजाम 

किसान मेले में आने वाले किसानों को किसी प्रकार की कोई समस्या ना हो इसके लिए केंद्रीय और किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश देते हुए इस तीन दिवसीय मेले में आने वाले किसानों को किसी भी तरह की ऐसे  परेशानी न हो  इसलिए बसों का संचालन ऐसी जगह पर किया जाए जिससे मेले में सभा स्थल पहुंचने वाले किसानों को किसी तरह की असुविधा का सामना ना करना पड़े। कृषि मंत्री ने मार्गों पर साइन बोर्ड लगाने और दूसरी जरूरी दिशा -निर्देश अधिकारियों को दिए। मुरैना के जिलाधिकारियों के अनुसार मेले का शुभारंभ मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान करेंगे। जिलाधिकारी ने बताया कि किसान मेले का उद्देश्य किसानों और कृषि से जुड़े लोगों को कृषि क्षेत्र में विकसित नहीं तकनीकी से अवगत कराना है।