Movie prime

भारत बनने वाला है दुनिया का सबसे बड़ा इलेक्ट्रिक वाहन बनाने वाला देश ,इतने सालो खत्म हो जाएगी पेट्रोल डीजल की जरूरत खत्म

 

भारत के पास इलेक्ट्रिक वाहनों के उत्पादन के मामले में पूरी दुनिया में टॉप पर पहुंचने की क्षमता है। हाल ही मेंलॉस एंजिल्स की कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी और बर्कले लैब की ओर से आयोजित की गई एक स्टडी में यह बात सामने आई है। रिपोर्ट के अनुसार अगर भारत डीजल से चलने वाले ट्रकों को इलेक्ट्रिक में बदलता है तो 2010 तक शुद्ध शून्य  ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन के लक्ष्य को पूरा करने में सक्षम हो जाएगा। 

elektirk

डीजल की तुलना में इलेक्ट्रिक ट्रक चलाने में ज्यादा किफायती होंगे

रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत इलेक्ट्रिक वाहनों के उत्पादन में वर्ल्ड लीडर बन सकता है। वर्तमान में भारत अपने द्वारा उपयोग किए जाने वाले तेल का 88% आयात करता है। मालवाहक ट्रक देश की परिवहन क्षेत्र द्वारा खपत कुल पेट्रोलियम का लगभग 60% उपयोग करते हैं। लॉरेंस बर्कले नेशनल लैबोरेट्री के ऊर्जा विभाग और कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय के एक अध्ययन से पता चला है  कि डीजल की तुलना में इलेक्ट्रिक ट्रक  चलाने में ज्यादा किफायती होंगे । 

elektrik

पूरे देश भर में वायु गुणवत्ता में सुधार करने और 2070 तक शुद्ध शून्य  ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन के लक्ष्य को पूरा करने में भी मदद करेगा

शोध से पता चला है कि इस बदलाव से भारत को आर्थिक तेल पर निर्भरता कम करने में भी मदद मिलेगी। अध्ययन में कहा गया है कि पूरे देश भर में वायु गुणवत्ता में सुधार करने और 2070 तक शुद्ध शून्य  ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन के लक्ष्य को पूरा करने में भी मदद करेगा। माल परिवहन लागत भी हो जाएगी  बर्कले लैब के रिसर्च साइंटिस्ट और रिपोर्ट के लेखक निकित अभ्यंकर ने कहा, “इलेक्ट्रिक ट्रक भारत की ऊर्जा सुरक्षा बढ़ाने और माल परिवहन लागत को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे.”