Movie prime
कामिका एकादशी पर इन नियमो का रखे खास ध्यान ,होंगी देवताओ की भी आत्मा तृप्त
 

धर्म ग्रंथों के अनुसार कामिका एकादशी पर भगवान विष्णु की पूजा होती है और इस दिन भगवान विष्णु की पूजा करने से मनोकामना जल्दी पूरी होती है इस बार एकादशी 24 जुलाई रविवार को है इस दिनवृद्धि, ध्रुव, धाता और सौम्य नाम के शुभ योग बन रहे हैं। 

kamika

24 जुलाई की रात लगभग 10:00 बजे से अगली सुबह तक द्विपुष्कर योग  रहेगा इस योग में पारण करने से कामिका एकादशी व्रत का 2 गुना फल मिलेगा ऐसा कहा जाता है कि भगवान की पूजा करने से   देवताओं की आत्मा भी तृप्त  होती है एकादशी करने वालों को इस दिन भूलकर भी अन्न का सेवन नहीं करना चाहिए ऐसा करना  महा पाप माना गया है। 

kamika

वृद्ध , रोगी और गर्भवती महिलाएं अगर यह व्रत करती है तो फलाहार या गाय का दूध ले सकती  हैं कामिका एकादशी को रात को सोना नहीं चाहिए रात भर जागकर भगवान विष्णु के मंत्रों का जाप करें और अगली सुबह ब्राह्मणों को भोजन करवाने के बाद ही आप भोजन और आराम करना चाहिए। 

kamik

 एकादशी  को जो लोग एकादशी व्रत नहीं करते हैं उन्हें भी चावल या इससे  बनी चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए कामिका एकादशी सावन मास में आती है जो कि भगवान शिव का महीना है इसलिए इस एकादशी पर भगवान विष्णु के साथ-साथ शिवजी की पूजा करें इससे दोनों देवताओं की कृपा हम पर बनी रहती है।