Movie prime
Mahashivratri 2023: अगले साल इस दिन है शिव भक्तो का महापर्व शिवरात्रि ,यहां जाने पूजा का शुभ महूर्त
 

महाशिवरात्रि को शिव भक्तों के लिए सबसे बड़े दिन की तरह देखा जाता है। इस दिन को धार्मिक मान्यताओं के आधार पर हर साल माघ मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि के दिन मनाया जाता है। शीत ऋतु और ग्रीष्म ऋतु के आरंभ के बीच यह पर्व मनाया जाता है। 

mamah

देशभर में महाशिवरात्रि के दिनों में उमंग और उल्लास को देखा जाता है। कोने-कोने से लोग शिव मंदिरों में दर्शन और जलाभिषेक के लिए पहुंच सकते हैं। अगले साल यानी 2023 में महाशिवरात्रि किस दिन है और किस तरह से इसका व्रत किया जाएगा। 

हम आपको बताते हैं महाशिवरात्रि 3 शब्दों के सम्मेलन से बना है जिसमें महा का अर्थ है महान ,शिव का अर्थ भगवान ,शिवरात्रि का अर्थ है रात यानी शिव की महान रात। माया और भ्रम के स्वामी कहे जाने वाले महादेव की महाशिवरात्रि पर विशेष पूजा होती है पौराणिक मान्यताओं के अनुसार इस दिन को काफी महत्वपूर्ण माना जाता है इस दिन भोलेनाथ और पार्वती का मिलन हुआ था आने वाले साल 2023 में 18 फरवरी शनिवार के दिन महाशिवरात्रि पड़ रही है।

mahas

इस तरह की जाती है पूजा 


सुबह उठकर निवृत्त होकर स्नान किया जाता है।  भक्त इस दिन शिवरात्रि (Shivratri) का व्रत भी रखते हैं। सुबह के समय शिव मंदिर में जाकर पूजा की जाती है।  पूजा में बेर, कपूर, धूप, जल, मौली, पंच फल, धतूरा, बेलपत्र और दही आदि सामग्री शामिल की जाती है। शिव मंदिर में शिवलिंग पर जलाभिषेक किया जाता है।  मान्यतानुसार इस दिन भक्त शिव भगवान को प्रसन्न करने के लिए शिव आरती गाते व शिव जी के भजन सुनते हैं। सभी में प्रसाद बांटा जाता है और दिन खत्म होने के बाद ही व्रत का पारण होता है।