Movie prime
सफेद आक में रहते है साक्षात् भगवान गणेश ,यहां जाने इसके वास्तु उपाय
 

हिंदू धर्म में हर पेड़ पौधे का विशेष महत्व होता है मान्यता है कि पेड़ पौधे में देवी -देवताओं का वास होता है पूजा पाठ में भी कुछ पौधों की पत्तियों का भी इसमें इस्तेमाल होता है इन्हीं में से एक है मदार का पेड़ मदार  को आक     भी कहा जाता है आक  के फूल भगवान भोलेनाथ को काफी प्रिय है धार्मिक मान्यता के अनुसार आक के पौधे में शिव और  गणेश जी का निवास होता है। 

io

पूजा पाठ में इस पौधे का विशेष महत्व होता कहते हैं कि अगर व्यक्ति शुभ मुहूर्त में आक के पौधे को घर में लगाता है तो हर तरह की परेशानियां दुख संकट दूर हो जाते हैं आक के पौधे को अगर आप घर में लगाते हैं तो उसे शुभ मुहूर्त में ही घर पर लगाएं कहते हैं की इसे  शुभ मुहूर्त में लाकर इसकी पूजा करनी चाहिए और पूजा करते समय गणपति मंत्र का उच्चारण जरूर करें इस पर भगवान गणपति की विशेष कृपा होती है और इसे लगाने से पूरे परिवार का बुरा असर कभी भी घर के सदस्यों पर नहीं पड़ता है। 

io

परिवार के सदस्य लगातार कई परेशानियों से जूझ रहे हैं इसकी जड़ को अभिमंत्रित करके बुधवार को  दांयी भुजा  पर बांध ले  गणेश जी का सौभाग्य वर्धक स्त्रोत का जाप करें इससे आपकी किस्मत खुल जाएंग  आक की विशेषता है कि यह किसी भी बंजर भूमि भी लग सकता है। 

io

ऐसी मान्यता है कि अगर किसी भी व्यक्ति की बीमारी लंबे समय तक पकड़ में नहीं आ रही है और आक  की जड़ की मदद से बीमारी का पता लगाया जा सकता है इसके लिए रविवार को पुष्य नक्षत्र में आक  की जड़ को गंगाजल से धो लें इस पर सिंदूर लगाए और गूगल की धूप दे गणेश जी के 108 मंत्र का जाप करें और रोगी  के सिर के ऊपर से सात बार उतार कर शाम को किसी सुनसान जगह में गाड़ दे।