Movie prime
31 जुलाई को है महिलाओ के साज श्रृंगार का दिन ,इस दिन करे माँ पार्वती की ऐसे पूजा ,मिलेगा अमर सुहाग वरदान
 

रविवार 31 जुलाई को सावन मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया  है जिसे हरियाली तीज कहते हैं इस तीज पर शिव जी के साथ पार्वती जी का विशेष पूजन होता है इस समय में  लगातार बारिश होने से चारों और हरियाली फैल जाता है इस वजह से हरियाली तीज भी कहते हैं  तृतीया तिथि की स्वामिनी  माता गोरी है इसलिए इसे गोरी तृतीया भी कहते हैं। 

teej

ज्योतिष के अनुसार महिलाओं के लिए विवाह का पहला सावन बहुत खास होता है पहले के समय में इस दिन महिलाएं सोलह सिंगार करके अपनी सहेलियों के साथ हरियाली तीज पर्व मनाया करती थी और झूला झूलती थी हरियाली तीज शुभ काम कर कर सकते हैं इससे माता की कृपा आप पर बनी रहेगी। 

teej

इस दिन माता गाय के दूध से बनी मिठाई अर्पित करें गाय के दूध से बने घी का ही दीपक जलाएं देवी  मां को शहद ,मिश्री, दूध ,दही अर्पित करने से भक्तों को सुंदरता और सुख शांति मिलती है वैवाहिक जीवन में शांति के लिए देवी मां को सुहाग का सामान जैसे लाल चुनरी, चूड़ियां ,कुमकुम ,सिंदूर ,गहने आदि चढ़ाने चाहिए। 

teej

 हरियाली तीज पर अपने घर के आस-पास पौधे लगाने चाहिए और उन पौधों की देखभाल करने का संकल्प करना चाहिए शिव पुराण में  बताया गया है कि हरियाली तीज पर जो भी भक्त पार्वती जी के लिए व्रत रखता है और उन्हें   झूले पर बैठाता  है और पूजा करता है उसे जीवन में सभी सुख प्राप्त होते हैं जिन लोगों के घर में  तालमेल नहीं है घर में क्लेश  होता है वे लोग  अगर व्रत करते है तो इनके वैवाहिक जीवन में प्रेम बना रहता है।