Movie prime
Ganesh Cthurthi 2022:गणेश जी मूर्ति ला रहे है घर तो यहां जाने कौनसी मूर्ति रहेगी सबसे शुभ
 

 पुरे देश में इन दिनों गणेश उत्सव की तैयारी चल रही है वहीं इस बार गणेश चतुर्थी 30 अगस्त को है इस दौरान भक्त गणेश चतुर्थी के दिन भगवान गणेश की मूर्ति की स्थापना करते हैं और 10 दिनों तक उनकी आराधना भी करते हैं लेकिन क्या आपको पता है कि श्री गणेश की मूर्ति लगाने से पहले और घरों में स्थापना करने से पूर्व कौन सी सूंड किस तरफ होनी चाहिए क्या कभी आपने इस बात पर ध्यान दिया है यदि आपके पास जवाब नहीं है तो आज हम आपको बताते हैं कि भगवान के की सूंड कितने प्रकार की होती है और क्या इसकी क्या मान्यता है । 

ganesh

 गणपति बप्पा की मूर्तियों में उनकी सूंड दाएं बाएं और सीधी होती है कोई धार्मिक मान्यताओं के अनुसार सीधी सूंड वाले गणपति बप्पा दुर्लभ होते हैं भगवान गणेश की एक तरफ मुड़ी हुई सूंड के कारण ही उन्हें वक्रतुंड कहा जाता है गणपति बप्पा की बाई सूंड  में चंद्रमा का और दांयी  सूंड में सूर्य का प्रभाव माना जाता है भगवान गणेश का सिर हाथी का है  अज्ञानता में भगवान शिव ने अपने पुत्र गणेश का सिर काट दिया था और सिर काटने के बाद पार्वती माता क्रोधित हुई तो उन को पुनर्जीवित करने के लिए भगवान शंकर ने हाथी की सूंड लगाई थी लेकिन हाथी की सूंड  भगवान गणेश के सिर पर तीन बार लगाई गई थी इसलिए गणेश जी के तीन रूप है। 

ganesh

पहली और दूसरी बार में सूंड नहीं लगाई जा सके लेकिन तीसरी बार में सूंड लग गई इसलिए भगवान गणेश के तीन मुख है भगवान गणेश विघ्नहर्ता और मंगल कर्ता है पूजा प्रतिष्ठा में उनका पहला आव्हान  होता है अगर आप घर के मुख्य दरवाजे पर लगाते हैं तो ध्यान रहे कि उन दक्षिण की तरफ जो उनकी सूंड जाती है वही प्रतिमा लगाएं वही जब भी आपके घर के अंदर चौखट पर लगाते हैं तो  दांयी और की सूंड की मूर्ति  ही लगाए   कहा जाता है कि कहीं कहीं पर गणेश जी के साथ गोरी की भी पूजा होती है तो बाएं तरफ गणेश भगवान गणेश की सूंड जाती है उनका माता की तरफ आकर्षण रहता है।