Movie prime
ये बेल घर में लगाने से मिलेगी भगवान विष्णु और लक्ष्मी की खास कृपा ,यहां जाने इसे लगाने की सही दिशा
 

  वास्तु शास्त्र में हर चीज को रखने के लिए उपयुक्त दिशा और स्थान का जिक्र होता है वास्तु के अनुसार किसी सामान को उचित और उपयुक्त स्थान पर रखने से घर में सुख समृद्धि आती है इसके साथ ही दिशा और कौने  का भी ध्यान रखा जाता है वास्तु के मुताबिक घर में कुछ पौधे रखने से सुख-समृद्धि आती है अपराजिता को विष्णुप्रिया कहते हैं कहते हैं कि इसे घर में लगाने से शुभ परिणाम मिलते हैं और घर में वास्तु को नियंत्रित करने के साथ-साथ सकारात्मक उर्जा का भी संचार होता है आज हम आपको बताते हैं कि घर में विष्णुप्रिया  यानि की अपराजिता  की बेल किस प्रकार लगाई जाए। 

aprajita

अपराजिता नीला और सफेद दो रंगों में होता है यह एक प्रकार की बेल होती है जिसे धन बेल भी कहते हैं वास्तु शास्त्र के अनुसार अपराजिता की बेल जैसे-जैसे बढ़ती है वैसे ही घर में खुशहाली और सम्पन्नता  भी बढ़ती है वास्तु के अनुसार सफेद रंग का पौधा धन लक्ष्मी को आकर्षित करता है कहते हैं कि अपराजिता का पौधा लगाने से किसी भी संकट को आने की संभावना कम हो जाती है इसे घर में लगाने से सुख शांति बढ़ती है और  धन  नहीं की कोई कमी महसूस नहीं होती। 

apraj

वही नीली अपराजिता को विष्णु प्रिया कहते हैं इसको लगाने का सबसे अच्छा दिन गुरुवार या शुक्रवार है  वास्तु की मानें तो गुरुवार भगवान विष्णु को समर्पित है वहीं शुक्रवार माता लक्ष्मी को समर्पित है इस दिन अपराजिता लगाने से घर में सकारात्मक असर दिखता है। 

aprajit

 वास्तु शास्त्र के अनुसार नीली अपराजिता लगाने के लिए ईशान कोण यानी उत्तर-पूर्व दिशा सर्वोत्तम मानी जाती है इस दिशा में लगाने से आपको धन संबंधी परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ता है साथ ही आमदनी भी बढ़ती है।