Movie prime
30 साल बाद शनि जयंती पर कुंभ राशि में शनिदेव साढ़ेसाती वालों के लिए बहुत खास मौका जानिए
 

आज ज्येष्ठ मास की कृष्ण पक्ष की अमावस्या के दिन शनि देव का जन्म हुआ था इसलिए इस दिन शनि जयंती के नाम से मनाया जाता है इस दिन शनिदेव की विशेष आराधना होती है इस बार 30 साल बाद शनि जयंती के दिन शनि अपनी राशि कुंभ में है इसलिए शनि की साढ़ेसाती वालों के लिए यह दिन बहुत खास है इस दिन किए गए उपाय शनि की पीड़ा वालों जैसे शनि महादशा साढ़ेसाती ढैया वालों के लिए बहुत खास है

pic

इस समय मकर कुंभ व मीन राशि पर शनि की साढ़े साती चल रही है वृश्चिक राशि पर शनि की  ढैय्या का प्रभाव है इस लिए इस दिन शनि कर उपाय बहुत ही खास होंगे अगर हो सकें तो आज के दिन व्रत रखें व्रत रखकर शाम में शनि पूजन और शनि मन्त्र के जाप व पीपल वृक्ष की पूजन सरसों का तेल काला तिल ,कला वस्त्र काला छाता आदि के दान से शनि देव प्रसन्न होते है सुखद संयोग सर्वार्थसिद्धयोग में पड़ रहा है जबकि शनिदेव अपने मूल त्रिकोण राशि कुंभ में प्रवेश कर रहे है ऐसे में भगवान शनि देव का पूजा पाठ विशेष फलदायी होगा 

shani dev
कुंडली में उपस्थिति शनि से ही यह मालूम किया जाता है की इंसान अपने काल में कितना सफल रहेगा और कितना दुःख झेलना शनि जयंती के दिन व्रत रखकर भगवान शनिदेव की पूजा करके शनि स्त्रोत शनि चालीसा एवं शनि मन्त्र का जाप करना चाहिए गरीबों की सेवा एवं भिखारियों को भोजन कराकर दक्षिणा देना शुभ होता है