Movie prime

आखिर जेसीबी को वजन उठाने के लिए कहाँ से मिलती है इतनी ताकत ,इस जगह छुपा है राज

 

कुछ समय पहले एक वीडियो वायरल हुआ जिसमे  सैकड़ों लोग जेसीबी मशीन को खुदाई करते देखने पहुंच गए जेसीबी को बुलडोजर भी कहते हैं।  आपने भी अक्सर भारी सामान उठाने अंडर कंस्ट्रक्शन का काम हुए खुदाई करते जेसीबी को जरूर देखा होगा। क्या कभी सवाल मन में  आया की आखिर जेसीबी मशीन कितना वजन उठा लेती है। अगर हम जेसीबी मशीन की क्षमता की बात करें तो यह आकार और मॉडल पर निर्भर करती है। भारत में कई तरह की जेसीबी मशीन होती है उनका वजन उठाने की क्षमता भी अलग अलग रहती है या कुछ मशीन तो 1000 किलोग्राम तक वजन उठा सकती है । 

आइए जानते हैं कि किस तरह की जेसीबी कितना वजन उठा सकती है। 

जैसे भारतीय मार्केट में कई कंपनियां बुलडोजर मशीन बनाती है इसमें जेसीबी महिंद्रा एस्कॉर्ट टाटा हिताची जैसे कंपनियां बुलडोजर बनाती है लेकिन जेसीबी बुलडोजर सबसे ज्यादा बिकते हैं एक रिपोर्ट के मुताबिक भारत में बुलडोजर के 75 फ़ीसदी मार्केट पर जेसीबी का कब्जा है और अब तक इसे कोई भी कंपनी चुनौती नहीं दे पाई है।  आंकड़ों के मुताबिक जेसीबी ने 2020 में देश में तकरीबन 43 हजार कंस्ट्रक्शन इक्विपमेंट बेचे थे।  जेसीबी की भारत में पांच प्लांट है जिसमें सबसे बड़ा प्लांट दिल्ली के पास बल्लभगढ़ में स्थित है इस प्लांट से बनने वाले बुलडोजर को कंपनी अन्य देशों में निर्यात करती है। 

अब बात करें की आखिर एक जेसीबी  कितना वजन उठा सकता है। असल में जेसीबी बुलडोजर की वजन उठाने की क्षमता उसके प्रकार पर निर्भर करता है।  हम  दो तरह के बुलडोजर मार्केट में दिखते हैं 'लोडर और बकेट ' चूंकि लोडर बुलडोजर का काम मलबे या वजन को उठाकर दूसरी जगह रखना होता है, इसलिए यह ज्यादा वजन उठा सकता है। भारत में मिलने वाले जेसीबी बुलडोजर अधिकतम 100 क्विंटल यानी की 10 हजार किलो का वजन उठाने में सक्षम है। वही छोटी बुलडोजर 20 क्विंटल तक का वजन उठा सकते हैं। 

बुलडोजर कैसे होता है इतना शक्तिशाली

 इसका जवाब है बुलडोजर के इतना  पावरफुल होने का राज इसकी  इंजीनियरिंग में छुपा है । बुलडोजर में लगा हाइड्रोलिक वेट लिफ्टिंग सिस्टम इसे जबरदस्त पॉवर देता है. हाइड्रोलिक सिस्टम की मदद से यह भारी से भारी वजन आसानी से उठा सकता है।  इसे ऑपरेट करने के लिए ड्राइवर को स्पेशल ट्रेनिंग दी जाती है।