Movie prime
यूरिक एसिड शरीर के इन हिस्सों को कर देता है घायल ,यहां जाने बचने के उपाय
 

अक्सर बिजी शेड्यूल के चलते लोग अपनी हेल्थ का ध्यान नहीं रख पाते ,जिसकी वजह से लाइफस्टाइल में बदलाव होने के साथ-साथ बाहर का मसालेदार खाना और जंक फूड खाते हैं यह सब खाने से हमारी सेहत पर भी काफी असर पड़ता है। इसके बाद हम कई बीमारियों के शिकंजे में फंस जाते हैं अन हेल्थी डाइट और बिगड़ी हुई लाइफस्टाइल के कारण ही वर्तमान समय में यूरिक एसिड का बढ़ना एक आम समस्या है। 

uric

रोज एक्सरसाइज करने और सही खान-पान से यूरिक एसिड को कंट्रोल किया जा सकता है

शरीर में जब यूरिक एसिड की मात्रा सामान्य से ज्यादा हो जाती है तो इससे आपको कई बीमारियों और समस्याओं का सामना करना पड़ता है ऐसे जोड़ों और मांसपेशियों के रूप में जमा हो जाते हैं इसी कारण जोड़ों में दर्द की समस्या हो जाती है।  यूरिक एसिड के कारण घुटने में दर्द और सूजन जैसी समस्याएं आती है रोज एक्सरसाइज करने और सही खान-पान से यूरिक एसिड को कंट्रोल किया जा सकता है लेकिन सबसे पहले जरूरी है कि शुरुआती लक्षण पहचान हो आप जल्दी से डॉक्टर से सम्पर्क  करे। 

uric

यूरिक एसिड बड़जणे पर  जोड़ों में दर्द ,पैरों में तेज दर्द और हाथ पैरों में जलन का सामना करना पड़ता है। धीरे-धीरे उंगलियों के जोड़ों में दर्द के साथ आने लगती है। यूरिक एसिड बढ़ने पर ज्यादा प्यास भी आने लगता है। 

यूरिक एसिड कंट्रोल करने के लिए हेल्दी डाइट और लाइफस्टाइल फॉलो करें। 

uric


 समय पर खाना खाएं, ज्यादा से ज्यादा पानी पीयें. वहीं अपनी डाइट में लो प्यूरीन और फाइबर युक्त खाने को ऐड करें।  दूध वाली चाय के मुकाबले ग्रीन टी काफी फायदेमंद होती है. इसमें एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो यूरिक एसिड को हड्डियों के बीच इकट्ठा होने से रोकते हैं. इसलिए ग्रीन टी को सुबह-सुबह ज़रूर पियें।