Movie prime
अंडे का पीला भाग खाना चाहिए या नहीं ?
 

एक दिन में एक साबुत, तले हुए या पके हुए अंडे आपको 13 प्रकार के कई आवश्यक विटामिन और पोषक तत्व (Nutrients) प्रदान कर सकते हैं। अंडे को हेल्दी डाइट का हिस्सा माना गया है।  लेकिन आजकल अंडे के पीले हिस्से को फेंक देने का चलन बढ़ रहा है, इसे अस्वास्थ्यकर और हाई कोलेस्ट्रॉल वाला माना जाता है। मांसपेशियों के निर्माण या वजन कम करनेकी कोशिश कर रहे फिटनेस प्रेमियों में यह प्रवृत्ति अधिक आम है।

अगर आप अंडे के पीले भाग को त्याग देते हैं, तो आप अपने शरीर को कई पोषक तत्वों से वंचित कर देंगे और इस सुपरफूड को अपनी डाइट में शामिल करने का केवल आधा लाभ प्राप्त करेंगे। अंडे के अंदर पीला भाद जर्दी होती है।जर्दी में सफेद भाग की तुलना में बहुत अधिक पोषक तत्व होते हैं।अंडे के सफेद भाग में जर्दी की तुलना में कम से कम पोषक तत्व होते है।एक साबुत अंडा विटामिन ए, डी, ई, के, और 6 अलग-अलग बी विटामिन से भरा होता है ।

खनिजों में आयरन, कैल्शियम, फास्फोरस, जिंक और फोलेट होते हैं। अधिकतर लोगों का मानना है कि जर्दी में कोलेस्ट्रॉल, वसा और सोडियम की मात्रा अधिक होती है, लेकिन अगर आप सीमित मात्रा में अंडे का सेवन करते हैं, हेल्दी डाइट फॉलो करते हैं और नियमित रूप से व्यायाम करते हैं, तो आपको कोलेस्ट्रॉल और वसा की मात्रा के बारे में चिंतित होने की जरूरत नहीं है। चाहे आपको वजन घटाना हो या मसल्स बिल्डिंग करनी हो आपको किसी भी उद्देश्य के लिए  कोलेस्ट्रॉल और वसा दोनों की जरूरत होती है। 

यह विटामिन डी के निर्माण में भी मदद करता है जब त्वचा सूरज की रोशनी के संपर्क में आती है। डी विटामिन हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है। रही बात  अंडे में मौजूद फैट की बात है तो यह ज्यादातर हेल्दी माना जाता है।  वसा का सेवन आपको गर्म रखने में मदद करता है और आपको लंबे समय तक भरा हुआ महसूस कराता है।