Movie prime
आजकल लिवर बना मौत की सबसे बड़ी वजह ,यहां जाने क्यों होता लिवर फेल
 

कोरोना  के बाद से सडन डेथ के मामले बढ़े है  हार्ट अटैक, हार्ट फेल्योर आदि के मामले देखने को मिले हैं लेकिन इन मामलों के अलावा लीवर फेल होने के मामले भी काफी तेजी से सामने आए हैं आपको बता दें कि इस समय देश में करीब 32 परसेंट लीवर के मरीज है और जिससे बीमारी बढ़ रही है उसे देखकर हेल्थ एक्सपर्ट्स मान रहे हैं कि अगले 10 सालों में यह मौत की सबसे बड़ी वजह रहेगी अब सवाल यह है कि इस मुसीबत से बचाना कैसे हैं सबसे पहले तो परेशानी कहां से शुरू हो रही है यह जानने की जरूरत है। 

liver

लीवर की परेशानी लीवर पर फेट  जमने से शुरू होती है जो काफी मामूली है इसे बदलाव करके वजन घटाकर एक्सरसाइज और शुगर बैलेंस करके पूरी तरह से ठीक किया जाता है लेकिन बात बिगड़ती है जब वक्त रहते फैट कंट्रोल नहीं करते इस वजह से लिवर डैमेज होने लगता है और फिर लीवर सिरोसिस ,लीवर कैंसर या लीवर फैट जैसी कंडीशन बनती है कई बार तो लीवर की बीमारी का शुरुआत दृष्टि से पता ही नहीं चलता। 

livg

साइलेंट डिजीज की तरह जब फेल होने की नौबत आती है तो समझ में आता है दरअसल शरीर के लिए लीवर बहुत ही ज्यादा इंपोर्टेंट है क्योंकि खाना पचाना  हो या इंफेक्शन से लड़ना हो ,शुगर कंट्रोल करना हो या फिर बॉडी से टॉक्सिंस बाहर निकालना हो यह सभी काम लीवर के होते हैं। 

livg

शरीर में प्रोटीन बनाना और न्यूट्रिशन को  स्टोर करना भी लीवर का ही काम होता है यानी कि शरीर के जितने भी फंक्शन होते हैं उन्हें हेल्दी रखने का काम लीवर का ही होता है लिवर खराब होने के लक्षण ऐसे हैं यूरिन का पीला रंग ,ज्यादा थकान ,पेट दर्द ,पीली आंखें ,पीली स्किन और भूख ना लगना यह लीवर फेट  के शुरुआती लक्षण है।