Movie prime

लालू प्रशाद यादव की बेटी दे रही है उनको किडनी , क्या किडनी डोनेट करने के बाद महिलाओ को होती प्रेग्नेंसी में दिक्कत

 

लालू प्रसाद यादव किडनी से जुड़ी प्रॉब्लम का सामना कर रहे हैं पिछले महीने ही  सिंगापुर में अपनी बेटी रोहिणी आचार्य के पास गए थे वहां के डॉक्टर्स ने उन्हें किडनी ट्रांसप्लांट की सलाह दी इसके बाद रोहिणी ने अपने पिता को किडनी देने का फैसला किया। लालू के इस महीने दोबारा सिंगापुर जाने की संभावना है ताकि किडनी ट्रांसप्लांट हो सके।

kidni

 हमारी  किडनी 4 से 5 इंच की होती है इसका काम खून की सफाई करना है

स्कूल के दिनों से हम जानते हैं कि इंसान के शरीर में दो किडनी होती है दूसरी बात है कि एक खराब हो जाए तो दूसरी से काम चल सकता है साइंस के हिसाब से समझे तो किडनी बीन के आकार वाला ऑर्गन है यह रिड की हड्डी  के दोनों तरफ आंत  के नीचे और पीठ के पीछे की तरफ होती है।हमारी  किडनी 4 से 5 इंच की होती है इसका काम खून की सफाई करना है इस काम  में नेफ्रॉन मदद करता है सरल तरह से समझे तो यह चलनी  की तरह लगातार काम करती रहती है जो भी वेस्ट हमारे शरीर के अंदर जाता है उसे दूर करती है। 

kidni

कई रिसर्च में बात साबित हो गई है कि महिलाएं पुरुष की तुलना में अंगदान करने में आगे है

और हां, किडनी फ्लूड और इलेक्ट्रोलाइट्स का लेवल सही रखती हैं अगर किडनी ठीक से काम नहीं करती है तो किडनी फेल हो जाती है किडनी की ठीक से काम करने का मतलब है शरीर में सोडियम की मात्रा बढ़ जाना और सूजन आ जाना ऐसी सिचुएशन में डॉक्टर की सलाह पर किडनी ट्रांसप्लांट किया जाता है जब किसी एक व्यक्ति के शरीर से किडनी निकाल कर दूसरे व्यक्ति के शरीर में डाल दी जाती है इस प्रोसिजर को ही किडनी ट्रांसप्लांट कहते हैं। कई रिसर्च में बात साबित हो गई है कि महिलाएं पुरुष की तुलना में अंगदान करने में आगे है। नेशनल ऑर्गन एंड टिशु ट्रांसपोर्ट ऑर्गेनाइजेशन के अनुसार पिछले 20 सालों में भारत में अंगदान करने वालों में 70 से 78  परसेंट महिलाएं हैं सिर्फ भारत में ही नहीं अमेरिका और स्विट्जरलैंड में यही हाल है। 

kidni

किडनी डोनेट करने  से महिलाओं या पुरुषों की फर्टिलिटी की समस्या नहीं होती

अमेरिका में अंगदान करने वाली 60% महिलाएं हैं वही स्विट्जरलैंड में 631 किडनी ट्रांसप्लांटरस  में से 22 परसेंट महिलाओं ने अपने पूर्व साथियों को अंग दिए जबकि कुल पुरुष की तादाद केवल 8% थी। अब सवाल उठता है कि किडनी डोनेट करने के बाद क्या महिलाओं को कोई परेशानी होती है या फिर वह प्रेग्नेंट नहीं हो सकती है  तो आपको बता दे की किडनी डोनेट करने से आपकी प्रेगनेंसी में या बच्चे को जन्म देने में कोई मुश्किल नहीं होगी किडनी डोनेट करने  से महिलाओं या पुरुषों की फर्टिलिटी की समस्या नहीं होती हालांकि फिर भी महिलाओं को किडनी डोनेट करने के 1 साल बाद तक इंतजार करना चाहिए इससे आपके शरीर को ठीक होने के लिए काफी समय मिलता है।