Movie prime

अतीक अहमद ने कुबूला पाकिस्तान से कनेक्शन ,बेटे की मौत पर बोला ,अल्लाह की चीज थी,अल्लाह ने ले ली

 

अतीक अहमद और अशरफ से  पुलिस ने 23 घंटे पूछताछ की दोनों से करीब 200 सवाल पूछे। सूत्रों के मुताबिक इस दौरान अतीक ने कबूला है कि वह पाकिस्तान से हथियार की सप्लाई लेता रहा है।  अहमदाबाद जेल में उसने ISI  एजेंट को फोन किया था। यही नहीं अतीक ने उमेश पाल हत्याकांड की साजिश का जुर्म कबूला है। असरफने पुलिस को बताया कि किसी चैनल से हथियार पंजाब के फार्म हाउस तक पहुंच जाता था। पूछताछ में अतीक गिड़गिड़ा रहा था। परिवार के लिए रहम की भीखमांगता रहा। 

पुरामुफ्ती थाने के पास पुलिस का काफिला महंगांव में पहुंचा

बेटे के जनाजे में शामिल होने के लिए मिन्नते  करता रहा। इस दौरान अतीक की तबीयत बिगड़ गई इसके बाद अतीक और अशरफ को एक हथकड़ी में प्रयागराज के कॉल्विन हॉस्पिटल लाया गया। अतीक और अशरफ को लेकर धूमनगंज पुलिस रात 9 बजे कौशांबी के लिए रवाना हुई थी। पुरामुफ्ती थाने के पास पुलिस का काफिला महंगांव में पहुंचा।  यहां सर्च अभियान चलाने के बाद कुछ नहीं मिला। अधिकारी अतीक और अशरफ से पूछताछ कर ही रहे थी की  अतीक  ने सीने में दर्द और घबराहट होने की बात कही। तीक और अशरफ को लेकर कॉल्विन हॉस्पिटल पहुंची। जहां पर डॉक्टरों ने 15 मिनट तक चेक-अप किया। 

अशरफ को बोरे पर रात बितानी पड़ी

 हॉस्पिटल से दोनों बाहर आए अतीक मीडिया के सवालों पर खास खामोश रहा। लेकिन अपने भतीजे असद के एनकाउंटर पर पहला बयान दिया। असद के मारे जाने पर अशरफ बोला 'अल्लाह की चीज थी , अल्लाह ने ले लिया। कभी मसनद पर सोने वाले अतीक और उसके भाई अशरफ को बोरे पर रात बितानी पड़ी। केवल 3 घंटे ही सोने दिया गया। लगातार पूछताछ होती रही। एटीएस ने अलग से हथियार और पाकिस्तान कनेक्शन को लेकर 4 घंटे तक पूछताछ की पूछताछ के दौरान कई सालों सवालों पर अतीक  और अशरफ ने चुप्पी साधे रखी। माफिया अतीक अहमद ने पुलिस को दिए बयान में कहा कि उसके पास कभी भी हथियारों की कमी नहीं रही।  ISI के एजेंट ड्रोन से उसके हथियार पाकिस्तान से भारत सीमा में गिराते थे। अशरफ उन हथियारों की डिलीवरी करा लेता था और बदले में पैसे दे देता था। अतीक ने कहा कि पंजाब में उस जगह को दिखा सकता है जहां से हथियार जमा करता था।  अतीक  के बेटे असद और उसके शूटर गुलाम के पास जो हथियार मिले हैं  वो रेयर हैं। उनके भी पाकिस्तान से मंगाए जाने की आशंका है।