Movie prime

सेना के जवान चीन सीमा पर खेल रहे है क्रिकेट और हॉकी ,चीनी सिमा पर बढ़ी एक्टिविटी

 

भारतीय सेना ने चीन बॉर्डर पर वास्तविक नियंत्रण रेखा यानी  एलएसी   पर निगरानी बढ़ा दी। न्यूज  एजेंसी के अनुसार लद्दाख में तैनात सेना के जवान गलवान घाटी और आसपास के इलाकों में घोड़ों से पेट्रोलिंग कर रहे हैं। सामान ढोने के लिएभी खच्चरों को भी इन इलाकों में ले जाया जा रहा है। इधर सेना की कुछ तस्वीरें भी सामने आई है जिसे सैनिक गलवान और इलाके में क्रिकेट और आइस हॉकी खेल रहे हैं। 

जहां 15-16 जून 2020 की रात में भारत-चीन के बीच सैनिकों की झड़प हुई थी

भारतीय सेना ने इन जगहों के नाम नहीं बताए हैं लेकिन कई मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया कि यह वही जगह है जहां 15-16 जून 2020 की रात में भारत-चीन के बीच सैनिकों की झड़प हुई थी। घाटी में संघर्ष के बाद से ही दोनों देशों की सेनाएं अलर्ट हो गई है। मीडिया रिपोर्ट में कहा गया कि ऊंचाई वाले क्षेत्रों में तैनात सैन्य टुकड़ियों सर्दियों के दौरान कोई गेम्स ऑर्गेनाइजर करती है। इसे सैनिकों की फिटनेस बरकरार रखने के एक्सरसाइज बताया गया है। 

chin

वहीं 2020 में चीन ईस्टर्न लद्दाख के सीमावर्ती इलाके में एक्सरसाइज के बहाने सैनिकों को तैनात कर दिया था

 भारतीय सेना की लेह स्थित 14वीं कोर ने शेयर की है उन्होंने लिखा है कि पटियाला ब्रिगेड त्रिशूल डिवीजन ने पूरे उत्साह और शौर्य  के साथ शून्य से नीचे तापमान और बेहद ऊंचाई वाले क्षेत्र में क्रिकेट प्रतियोगिता कि। 'हम अब असंभव को संभव बनाते हैं 'वहीं 2020 में चीन ईस्टर्न लद्दाख के सीमावर्ती इलाके में एक्सरसाइज के बहाने सैनिकों को तैनात कर दिया था इसके बाद इस इलाके में कई जगहों पर चीनी सैनिकों ने घुसपैठ की इसके बाद से भारतीय सेना ने भी इस इलाके में चीन की बड़ी संख्या में सैनिकों की  तैनाती कर दी थी। हालात इतने खराब हो गए थे  चार दशक से ज्यादा वक्त के बाद एलएसी पर गोलियां चली। इस दौरान 15 जून की गलवान घाटी में चीनी सेना के साथ हुई झड़प में भारतीय सैनिक शहीद हो गई थी वहीं चीन काफी समय बाद माना था कि उसके  भी 5 जवान मारे गए थे।