Movie prime
मौसम विभाग क्यों नहीं दे सका बदल फटने की सटीक भविष्वाणी , मौसम विभाग के ऑफिसर ने किया बड़ा खुलासा
 

8 जुलाई का पवित्र अमरनाथ गुफा के पास भयंकर त्रासदी हुयी इस दिन इतनी तेज बारिश हुयी की 50 श्रद्धालु इसमें  बह गए इस घटना में कम से कम 16 लोगों की मौत हो गई थी ऐसा कहा गया कि बादल फटने की वजह से इतनी तेज बारिश हुई थी अब मौसम विज्ञान के प्रमुख महापात्रा ने इस पर बड़ा बयान दिया है। 

amrtnath

उन्होंने कहा कि उस दिन बादल फटने की घटना से इनकार नहीं किया जा सकता है उन्होंने कहा कि इतनी ऊंचाई पर बादल फटने की घटना का पूर्वानुमान लगाना लगभग नामुमकिन है उन्होंने बताया कि अमरनाथ यात्रा मार्ग के साथ-साथ हमारे पास 15 ऑटोमेटिक वेदर स्टेशन है जो मौसम का पूर्वानुमान व्यक्त करते हैं इनमें से एक स्टेशन गुफा पर है इस स्टेशन पर 28  मिलीमीटर वर्षा का पूर्वानुमान व्यक्त किया था लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि बादल फटने की घटना नहीं हुई होगी। 

basd

निश्चित रूप से पवित्र गुफा के ऊपरी भाग में जोरदार वर्षा हुई है जिसकी वजह से पानी बहुत तेजी से पहाड़ियों से नीचे गिरने लगा हमारे पास वहां कोई वेधशाला नहीं है इसलिए हम इस घटना की पुष्टि नहीं कर सकती लेकिन हम इसे ख़ारिज  नहीं कर सकते हैं और  8 जुलाई को पवित्र अमरनाथ गुफा के पास काफी भयंकर त्रासदी हुई थी वैसे यह इलाका हमेशा बर्फ से ढका हुआ होता है ऐसे में इस त्रासदी में श्राद्ध श्रद्धालुओं का क्या हाल हुआ होगा समझा जा सकता है जब से यह घटना घटी है इसकी प्रारंभिक कारणों को लेकर संदेह पैदा किया जा रहा है एक तरफ इस घटना के लिए बादल फटने को जिम्मेदार माना जा रहा है वहीं दूसरी तरफ मौसम विभाग शुरू से इस बात को दोहरा रहा है। 

amarnath

 यह घटना स्थानीय तीव्र वर्षा की वजह से हुई है इसे बादल फटने के रूप में नहीं देखा जा सकता क्योंकि अगर 1 घंटे के अंदर 100 मिलीलीटर वर्षा होती है तब भी उसे बादल फटने की घटना माना जा सकता है अभी मौसम विभाग का कहना है कि बादल फटना बहुत ही स्थानीय स्तर की घटना है यह 1 किलोमीटर या उससे भी कम इलाके में घटित होती है इस घटना के बारे में पूर्वानुमान लगाना अपने आप में दुर्बल है खासकर पश्चिमी वाली क्षेत्र  में जाएं इतनी ऊंची ऊंची पहाड़ियां है ऐसे में जहां जगहों पर जमीनी अवलोकन से मौसम का पूर्वानुमान लगाना लगभग असंभव है ऐसी जगहों पर मौसम का पूर्वानुमान लगाने के लिए हम केवल उपग्रह ,राडार और दूसरों पर निर्भर रह सकते हैं।