Movie prime
ऋषि सुनक पहुंचे आखिरी दौर में ,बस ये एक एक्जाम पास करते ही पहुंच जायेंगे ब्रिटिश पीएम की कुर्सी तक
 

ऋषि सुनक ने बुधवार को ब्रिटेन के प्रधानमंत्री पद की दौड़ में आखिरी चरण में जगह बना ली सुनक ने टोरी सांसदों के पांचवे और अंतिम दौर के मतदान में 137 मतों से जीत हासिल की लेकिन इससे आगे उनके लिए 10 डाउनिंग स्ट्रीट तक जाने वाली राह कठिन है पूर्व वित्त मंत्री शुल्क के लिए रास्ता इसलिए आसान नहीं दीखता क्योंकि उन्हें अब टोरी सदस्य के बीच बहुत कठिन मतदान का सामना करना पड़ेगा और इस दौर के मतदान में हाल के सर्वेक्षणों में आंकड़े उनके प्रतिनिधि लीज ट्रस के पक्ष में होने की बात कही गई है। 

rishi

सुनक और ट्रेस दो ही दावेदार प्रधानमंत्री पद की दौड़ में बचे हैं जिनके बीच सोमवार को बीबीसी पर लाइव डिबेट होगी सुनक ने इस महीने की शुरुआत में नेतृत्व के लिए अपनी दावेदारी पेश किए जाने के बाद से बहस और साक्षात्कार के क्षणों में कहा था कि‘यह नेतृत्व प्रतियोगिता सिर्फ हमारी पार्टी के नेता होने से ज्यादा है, यह हमारे ब्रिटेन के संरक्षक बनने के बारे में है उन्होंने 1960 के दशक में पूर्वी अफ्रीका से आये अपने भारतीय परिवार  की कहानी के साथ अपने प्रयास शुरु करने से लेकर व्यक्तिगत और पेशेवर के बीच संतुलन बनाने की कोशिश की है। 

riha

सुनक ने कहा कि मेरी मां ने फार्मासिस्ट बनने की योग्यता प्राप्त करने के लिए कड़ी मेहनत की है वहीं मेरे पिता एक एनएचएसपी से मिली और वे  साऊथटेम्पन में बस गए उनकी कहानी यहीं खत्म नहीं हुई लेकिन मेरी कहानी शुरू हुई उन्होंने अपने और उस के संदर्भ में यह बात कही है उन्होंने घोषणा की है कि मैं संसद से कर कम कर दूंगा लेकिन मैं जिम्मेदारी से करने जा रहा हूं मैं मैं चुनाव जीतने के लिए कर कटौती की बात नहीं कहूंगा मैं कर कर कम करने के लिए चुनाव जीतना चाहता हूं। 

riha

ब्रिटेन में सबसे अच्छे स्कूलों में से एक विंचेस्टर कॉलेज से ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय तक उनकी स्व-निर्मित साख विद्वानों को देश के सर्वोच्च राजनीतिक पद के लिए उनके नाम को सही मानने की वजह देती है  ऋषि सुनक के लिए अब राह     काफी कठिन है प्रधानमंत्री की कुर्सी तक पहुंचने के लिए अब उन्हें अनुमानित तौर पर कंजरवेटिव पार्टी के 1 ,60 ,000 मतदाताओं को अपने पक्ष में डाक मतपत्र डालने के लिए तैयार करना पड़ेगा इस चरण में मिलने वाली सफलता उन्हें ब्रिटेन का प्रधानमंत्री बना देगी।