Movie prime
महाराष्ट्र सीएम के गणपति दर्शनों को लोग बता रहे है 'गणपति डिप्लोमेसी 'इससे मचा हुआ राजनीती में हड़कंप
 

महाराष्ट्र में इन दिनों गणेश पूजा की धूम है आम से खास हर कोई इस त्यौहार को बड़े ही धूमधाम से मनाते हैं मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने भी अपने घर पर गणपति बप्पा की प्रतिमा स्थापित की है इतना ही नहीं सीएम खुद भी दर्शन करने के लिए दूसरे नेताओं के घर पहुंच रहे हैं सीएम एकनाथ शिंदे की इस 'गणपति कूटनीति' ने राजनीतिक गलियारों में हलचल पैदा कर दी है और कई अटकलों को जन्म दे दिया है। 

eknath

एकनाथ शिंदे इस दौरान शिवसेना के कई दिग्गजों के घर पहुंचे उन्होंने मनोहर जोशी और उद्धव ठाकरे के पीए मिलिंद नार्वेकर सहित कई नेताओं के घर पर गणपति का आशीर्वाद लिया इसके अलावा शिंदे एमएनएस चीफ राज ठाकरे और केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता नारायण राणे शिवसेना के पूर्व नेताओं के घर भी दर्शन किए उद्धव ठाकरे की तरफ से इस तरह की डिप्लोमेसी देखने को मिली जिसका नेतृत्व पूर्व मंत्री आदित्य ठाकरे ने किया उन्होंने शिवसेना के कई विधायकों और पूर्व सेवकों के घर का भी दौरा किया। 

eknath

एकनाथ शिंदे  राणे के घर का दौरा करने के बाद कहा मैं आज यहां दर्शन करने के लिए आया हूं मुलाकात के दौरान हमारी पुरानी यादें ताजा हो गई उन्होंने मुझे मुख्यमंत्री रहते हुए अपने कई अनुभव शेयर किये   आखिर यह आम लोगों की सरकार है आम लोगों के लिए क्या अच्छा किया जाए इसकी चर्चा हुई बाला साहब ठाकरे और आनंद दिघे की यादों को भी याद किया गया उन्होंने कहा कि हमने कुछ भी राजनीतिक चर्चा नहीं की है केवल शिष्टाचार भेंट कि मैं यहां पर केवल दर्शन के लिए आया था यहां पर कोई भी राजनीतिक चर्चा नहीं हुई। 

eknath

1 दिन पहले एकनाथ शिंदे शिवसेना सचिव मिलिंद नार्वेकर के घर भी गए थे शिंदे की इस यात्रा से कई अटकलें लगाई गई क्योंकि नार्वेकर अभी भी उद्धव खेमे के साथ है और भी  उद्धव के  सबसे वफादार के रूप में देखे जाते हैं सीएम शिंदे ने एक ट्वीट में कहा कि वह नार्वेकर के घर गणपति दर्शन के लिए गए थे उद्धव ठाकरे ने नार्वेकर को सूरत जाने और शिवसेना के बागी विधायकों से शिवसेना में वापस आग्रह करने के लिए चुना था  उद्धवर  समर्थक के रूप में देखे जाने वाले नार्वेकर के सीएम शिंदे के साथ काफी अच्छे संबंध है।