Movie prime
अब पेटीएम ने अपने यूजर्स को दी ये तगड़ी सर्विस ,ऐसा करने वाला बना पहला एप
 

पेटीएमसे अब आप  किसी भी दूसरे पेमेंट एप पर से सीधे मोबाइल नंबर की मदद से ही पैसा भेज सकते हैं। यह सुविधा देने वाला पेटीएम पहले एप है अभी तक ऐप से पेमेंट के चार  ऑप्शन थे। 

patim

फोन पे और गूगल पे  के बाद पेटीएम तीसरा सबसे बड़ा यूपीआई पेमेंट एप है

पहला- क्यूआर कोड स्कैन करके, दूसरा- UPI आईडी से। तीसरा- एक ही प्लेटफॉर्म के दो यूजर के बीच फोन नंबर से और चौथा- बैंक अकाउंट डिटेल की मदद से । फोन पे और गूगल पे  के बाद पेटीएम तीसरा सबसे बड़ा यूपीआई पेमेंट एप है। यूपीआई से होने वाले लेन-देन का दायरा लगातार बढ़ रहा है। यूपी के जरिए अक्टूबर में कुल 730 करोड का ट्रांजैक्शन हुआ। अक्टूबर में कुल 12 पॉइंट 11 लाख करोड रुपए से अधिक UPI से ट्रांजेक्शन हुआ।  यूपीआई ट्रांजैक्शन हुआ। 

paytm

 2016 में यूपी के साथ ही डिजिटल पेमेंट की दुनिया में क्रांति आ गई

सितंबर में 11 पॉइंट 16 करोड रुपए के 678 करोड यूपीआई ट्रांजैक्शन हुआ था।  2016 में यूपी के साथ ही डिजिटल पेमेंट की दुनिया में क्रांति आ गई। खाते से पैसे ट्रांसफर करने की सुविधा दी। इससे पहले डिजिटल वॉलेट का चलन था। वॉलेट में KYC जैसी झंझट है, जबकि UPI में ऐसा कुछ नहीं करना पड़ता। UPI को NCPI ऑपरेट करता है। 
भारत में RTGS और NEFT पेमेंट सिस्टम का ऑपरेशन RBI के पास है। IMPS, RuPay, UPI जैसे सिस्टम को नेशनल पेमेंट कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) ऑपरेट करती है। सरकार ने 1 जनवरी 2020 से UPI ट्रांजैक्शन के लिए एक जीरो-चार्ज फ्रेमवर्क मैंडेटरी किया था।