Movie prime

किसान पराली जलाकर नहीं खुश ,लेकिन सरकार पर लगाया ये आरोप

 

दिल्ली -एनसीआर इस समय जहरीले हवाओं से घिरा हुआ है।  इस मौसम में चलाई जाने वाली  पराली को दिल्ली एनसीआर के प्रदर्शन के लिए जिम्मेदार माना जा रहा है। इस मुद्दे पर राजनीति भी काफी बहस हुई सरकार भी नई बनी, लेकिन प्रालि जलाये जाने की समस्या का कोई समाधान नहीं निकला। 

parali

पंजाब के पटियाला के सिद्धूवाले गांव में किसान पराली जला रहे हैं इस दौरान कुछ किसानों  ने इसके बारे में पूरी बात की। पटियाला के सिद्धू  वाले गांव के किसान हरनेक सिंह ने कहा कि ,हम पराली नहीं जलाने के लिए तैयार है लेकिन सरकार से मशीनें नहीं मिल रही है। वही गांव के एक किसान ने कहा कि पराली जलाने में हमें कोई खुशी नहीं होती है पहले धुंआ हमें ही लगता है ,इसके बाद आगे जाता है। उन्होंने कहा कि हम पराली जलाने के लिए मजबूर हैं उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार ने कुछ नहीं दिया है। उन्होंने कहा कि कोई मशीनें भी नहीं दिए ना ही पैसा दिए हैं। हम गरीब लोग हैं हम इन मशीनों की खरीद नहीं कर सकते। 

parali

आपको बता दें कि दिल्ली में प्रदूषण के गंभीर स्तर तक पहुंचने के बाद दिल्ली सरकार ने ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान के अंतिम चरण के तहत केंद्र की वायु गुणवत्ता समिति द्वारा अनुशंसित प्रतिबंधों को लागू करने का निर्णय लिया है। इसके बाद दिल्ली सरकार के 50 फ़ीसदी कर्मचारी वर्क फ्रॉम होम करेंगे और निजी कार्यालय उनसे भी इसका अनुसरण करने की सलाह दी गई है।  साथ ही प्राइमीरी तक के सभी स्कूलों को बंद करने का निर्णय लिया गया है।