Movie prime
चीन ने ताईवान की खाड़ी में उतारी Rocket Force ,यहां जाने है कितनी पावरफुल
 

चीन ताइवान की खाड़ी में अपनी सबसे खतरनाक रॉकेट फोर्स को उतार दिया हैं यानी सिर्फ और सिर्फ मिसाइलों से हमला करने की पूरी तैयारी की  इस फ़ोर्स का पूरा नाम है पीपुल्स लिबरेशन आर्मी रोकेट फोर्स है यह अमेरिका, रूस ,भारत और यूरोप की स्ट्रैटेजिक मिसाइल कमांडो फोर्स की तरह काम करती है आज हम आपको इसकी ताकत के बारे में बताते हैं इस  रॉकेट फोर्स का गठन 56 साल पहले हुआ था तब इसका नाम सेकेंड आर्टिलरी कॉर्प्स था इस फोर्स में जमीन से मार करने वाली मिसाइलों को ही शामिल किया गया है । 

rokj

खासतौर पर बैलेस्टिक और क्रूज मिसाइल है जो पारंपरिक और परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम है इस फोर्स में कम दूरी से लेकर लंबी दूरी तक बैलिस्टिक मिसाइल तो है ही अत्याधुनिक हाइपरसोनिक ग्लाइड व्हीकल डॉन्गफेंग-ZF (DF-ZF) हथियार भी है इस फोर्स के पास इस समय 320 परमाणु हथियारों है हालांकि यह नहीं पता कि इनमें से कितने एक्टिव हथियार है और कितने तैनात करने की स्थिति में है या तैनात है। 

roket

चीन के पास इस रॉकेट फोर्स (Rocket Force) में अभी 50-75 ICBM यानी अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइलें हैं. हालांकि चीन के पास कुल 90 ICBM हैं.  पेंटागन के अनुसार कम दूरी की 1200 एसआरबीएम पारंपरिक हथियारों से लैस है दूसरी तरफ 200 से 300 मध्यम की दूरी MRBM  मिसाइलें इस रॉकेट फोर्स में है इंटरमीडिएट रेंज की कितने मिसाइल  चीन के पास है इसका आईडिया किसी भी देश को नहीं है लेकिन इतना जरुर पता है यह 200 से 300 जमीन से लांच की जाने वाली क्रूज मिसाइल है इस फोर्स का हिस्सा है।