Movie prime
गुजरात के 7 विधायकों ने दिया कांग्रेस को धोखा और दे दिया द्रोपदी मुर्मू को वोट
 

गुजरात कांग्रेस के 7 विधायकों ने द्रौपदी मुर्मू के वोटिंग पक्ष में वोटिंग की हालांकि कांग्रेस अब तक इन विधायकों का पता नहीं लगा पाई है जिन्होंने पार्टी लाइन  से इतर जाकर मुर्मू को वोट दिया ये ऐसे समय हुआ जब साल के आखिर में विधानसभा चुनाव होने हैं पार्टी को डर है कि विधायक देर सबेर बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। 

murmu

क्रॉस वोटिंग में कांग्रेस ने ना सिर्फ चिंता बढ़ा है बल्कि उस दावे को भी कमजोर कर दिया है जिसमे  कहा गया था कि हम बीजेपी को कड़ी टक्कर देंगे प्रदेश अध्यक्ष जगदीश  ठाकोर ने कहा है कि क्रॉस वोट करने वाले विधायकों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी क्योंकि अब तक  पार्टी  उनकी पहचान नहीं कर पाई है उन्होंने कहा कि फिलहाल कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है साफ है कि जिन विधायकों ने क्रॉस वोटिंग की है वे देर सबेर बीजेपी के प्रति अपनी निष्ठां दिखाएंगे। 

murmu

   ठाकोर ने एक दिन पहले ही कहा था कि  क्रॉस वोटिंग करने वाले विधायकों पर सख्त कार्रवाई करते हुए उन्हें पार्टी से निकाल दिया जायेगा लेकिन अब उनके सुर बदल गई है ठाकोर  ने कहा है कि क्रॉस वोटिंग करने वाले 7 विधायकों की पहचान करने की कवायद सभी विधायकों की वफादारी पर शक करने की तरह होगी उन्होंने कहा कि राज्यसभा चुनाव में विधायकों को मत पति में  अपना वोट डालने से पहले पर्यवेक्षक को दिखाना होता है। 

mumru

जबकि राष्ट्रपति चुनाव के मामले में गुप्त मतदान होता है गुगुरुवार को जब वोटों की गिनती हुई, तो कांग्रेस के 63 विधायक और इकलौते निर्दलीय विधायक के समर्थन के बावजूद 57 विधायकों ने विपक्ष समर्थित उम्मीदवार यशवंत सिन्हा के पक्ष में मतदान किया था वहीं, एनडीए की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को 121 वोट मिले जबकि विधानसभा में बीजेपी के पास 111 विधायक हैं। इसका मतलब यह हुआ कि मुर्मू को 10 और वोट मिले, जबकि यशवंत सिन्हा को उम्मीद से सात वोट कम मिले।