Movie prime
मधुमक्खी पालन का बिजनेस कर कमा सकते है 15 लाख रूपये तक ,यहां जाने इसकी पूरी जानकारी
 

सभी को पता है कि मधुमक्खी पालन बिजनेस एक ऐसा व्यवसाय जो कभी भी खत्म नहीं होता मधुमक्खी मुख्य रूप से शहद और मोम का उत्पादन करती है और शहद सेहत के लिए काफी फायदेमंद है मधुमक्खी पालन का व्यापार मुख्य रूप से किसी के साथ होने वाले एक बहुत ही लाभकारी व्यापार है इस बढ़ती जनसंख्या में  बीमारियों में इजाफा  रहा है जिससे एक सबसे बड़ी और आम समस्या है मोटापा इसको कम करने के लिए लोग शहद का सेवन कर रहे हैं इतना ही नहीं पाचन प्रक्रिया में सुधार से लेकर कमजोरी दूर करने के लिए भी शहद का सेवन किया जाता है। 

मधुमक्खी का पालन मुख्य रूप से मधु ,शहद या एवं मोम उत्पादन  करने हेतु व्यवसायिक स्तर  पर मधुमक्खियों को पालना ही मधुमक्खी पालन कहलाता है मधुमक्खी पालन के मुख्य रूप से बड़े-बड़े मधुमक्खी को फॉर्म स्थापित किए जाते हैं जिन्हें मुख्यत मधु वाटिका भी कहते हैं मधुमक्खी पालन के लिए स्थान चुनाव मुख्य रूप से 1 से 2  किलोमीटर क्षेत्र में पेड़ बहुत ज्यादा संख्या में हो जिससे कि मधुमक्खी  को भरपूर मात्रा में पूरी साल पराग मिल सके जो चयनित  स्थान है वहां पर मुख्य रूप से तेज हवाओं का सीधा प्रभाव नहीं होना चाहिए अगर उस स्थान पर छायादार पेड़ पौधे नहीं है तो मुख्य अप्राकृतिक रूप से छाया बनानी चाहिए स्थान के पास साफ़  बहता हुआ पानी अथवा नदी नाला जल का प्रमुख और मधुमक्खी पालन के लिए बहुत जरूरी है मधुमक्खी पालन के लिए मुख्य रूप से अधिक गर्मी ,सर्दियों लगातार वर्षा एकदम अच्छा नहीं होता इसके लिए 27 से 32 डिग्री सेल्सियस तापमान  पर ज्यादा काम करती है। 

बिहार प्रदेश में इस तरह का तापक्रम साल में ज्यादातर महीनों में रहता है मधुमक्खी पालन के लिए प्रतिकूल तापक्रम मुख्य रूप से होना चाहिए मधुमक्खी पालन के लिए महीने के माध्यम से जनवरी से मार्च का महीना सबसे उपयुक्त माना जाता है लेकिन अगर बात करें व्यवसाय के लिए  नवंबर से फरवरी का समय जब खेतों में वो फसल लगी होती है और  जब खतों में विभिन्न प्रकार की फसलें  लगी हो और वह अपने पुष्पन की मुख्य अवस्था में हो, तो यह व्यवसाय के लिए एक वरदान माना गया है क्या आप जानते हैं कि मधुमक्खी पालन के लिए आपकी मदद कहां से मिल सकती है। 

तो आप आपको बता दें कि सरकार मधुमक्खी पालन प्रशिक्षण में मधुमक्खी पालन के लिए लोन भी देती है बस   आपको मुख्य रूप से जिन चीजों की जरूरत है इसलिए अच्छी प्लानिंग और थोड़ी बहुत जानकारी जिससे कि आप ट्रेनिंग में जो भी बिंदु समझाए जाए उसे अच्छे से समझ सके  मधुमक्खी पालन मुख्य रूप से एक लघु उद्योग में आता है जिसके लिए हमें मुख्य रूप से सरकार दो  लाख  से 500000 तक की आर्थिक सहायता ले सकते हैं।