Movie prime

ड्रेगन फ्रूट की ऑर्गेनिक खेती कर अमीर बन रहे है किसान ,नरेंद्र मोदी की बात सुन आया आईडिया

 

साउथ अमेरिका में ऑर्गेनिक खेती को काफी तवज्जो दी जाती है। साउथ अमेरिका में पूरी तरह से ऑर्गेनिक खेती होती है।  हाल ही में नरेंद्र मोदी ने भी 'मन की बात' में ऑर्गेनिक खेती का जिक्र किया था पीएम की कही बात से सहमत  होकर आगरा के दिनेश कुमार चाहर ने ऑर्गेनिक खेती करने का फैसला किया और इस फल की तलाश में हैदराबाद पहुंचे जहां उन्होंने खेती के सिलसिले में पूरी जानकारी ली। 

dregn

अब ड्रैगन फ्रूट के प्लांट को आगरा लेकर आए हैं। दिनेश कुमार को प्लांट यानी पौधे लाए है  2 साल हो चुके हैं। दिनेश कुमार ने बताया कि इस पौधे की आगरा में देखरेख चल रही है। 3 साल पूरे होने के बाद से मार्केट में बेच  दिया जाएगा 3 साल बीतने के बाद इसका प्रोडक्शन भी काफी बढ़ जाएगा। दिनेश कुमार के मुताबिक इस प्लांट को बढ़ाने में केंचुआ खाद और कुछ दवाओं का इस्तेमाल होता है 1 एकड़ में लगाए गए हैं 1 पोल  में 4 पौधे लगाए जाते हैं। बड़ी बात यह है कि एक पोल पर हर सीजन में 25 साल तक 15 किलो की पैदावार होती जिससे एक बार एक फ्रूट लगाने से 1200000 रुपए कमाए जा सकते हैं। इस पौधे को पानी की जरूरत काफी कम होती है साथ ही इसकी जड़ की गहराई भी काफी कम होती है। 

dregn

सबसे आम बात है की पौधे किसी भी मिट्टी में आसानी से  जाता है ऑर्गेनिक खेती भारत के गुजरात और हैदराबाद में की जा रही है साथ ही राजस्थान और मध्य प्रदेश में भी ऑर्गेनिक खेती थोड़ी की जाती है आगरा में दिनेश कुमार चाहर के जरिए जो प्लांट लगाने में पैसा खर्च हुआ उसे दूसरे किसानों को काफी फायदा होगा। क्योंकि उनको इतना खर्च नहीं करना होगा। दिनेश शाह ने बताया इसमें तीन तरह के फल होते हैं लाल ,पीला और सफेद।  ऑर्गेनिक खेती से मिला फल डेंगू के मरीजों के लिए काफी फायदेमंद होता है इसका असर कीवी से भी कहीं ज्यादा है   जिसकी वजह से मरीज को ज्यादा फायदा मिलता है बताया गया है कि ड्रैगन फुट के रोजाना इस्तेमाल करने वालों की लगभग 10 साल उम्र बढ़  जाती है।