Movie prime
आपकी रात की नींद को हराम करने में इन ग्रहो का है सबसे बड़ा हाथ ,यहां जाने कैसे
 

ज्योतिष के अनुसार नींद एक व्यक्ति के जीवन के संघर्षों से मुक्ति दिलाने का स्रोत होती है व्यक्ति जब थक जाता है तो नींद उसे अगले दिन के काम के लिए तैयार करती है  नींद की बिना कई बीमारियां हमारे शरीर को घेर लेती है ऐसे में आज हम आपको बताते हैं कि नींद को कौन सा ग्रह नियंत्रित करता है। 

yu

नींद पर अगर ज्योतिष विद्या की बात करें तो पहला खाना लग्न चतुर्थ भाव यही चौथा खाना ,अष्टम भाव यानी आठवां खाना भाव ,द्वादश यानि  बारवा  खाना ही नींद और सैया के सुख के बारे में बताते हैं शनि ग्रह को नींद का मुख्य ग्रह माना गया है इसके अलावा चंद्रमा ,शुक्र और बुध ग्रह भी नींद से जुड़े हुए हैं कर्क ,वृश्चिक और मीन राशि जल की राशियां होती है यह भी नींद की राशियां है इसके साथ ही वायु की राशियां मिथुन ,तुला ,कुंभ भी नींद की राशियां है। 

yu

अच्छी नींद को शनि  का प्रमुख ग्रह माना गया है इसलिए इस ग्रह प्रधान रहने से अच्छी नींद आती है चंद्रमा शुक्र या बुध ग्रह के अच्छे स्थान पर होने से भी नींद पूरी आती है यदि आपके पास आपके घर के पास कोई जल स्रोत है किसी भी प्रकार का जल स्रोत है तो आप अच्छे से सोते हैं वह जल स्रोत कुआ ,तालाब नदी या समुद्र कुछ भी हो सकता है। 

yu

यदि आप शनि के बुरे प्रकोप के शिकार हैं या शनि ग्रह आप से रूठा हुआ है तो सोना आपके लिए एक समस्या हो सकता है मंगल के खराब होने से भी शारिक परेशानिया होती औरपरिणामस्वरूप  इंसान नींद से विमुख हो जाता है ।