Movie prime
बच्चा बोलता हैं झूठ तो ये टिप्स छुड़वा देंगे आपके बच्चे के झूठ बोलने की आदत
 

लगभग सभी माता-पिता अपने बच्चों को सच्चा और इमानदार बनाने  की कोशिश करते हैं जब भी कोई बच्चा झूठ बोलता है तो माता-पिता को यह अपनी पेरेंटिंग की क्षमता पर प्रश्नचिन्ह की तरह लगता है लेकिन इसमें आपको इतना  घबराने की बात नहीं है। 

baccha

झूठ की भी कई प्रकार होते हैं 1 हमारी लाइफ में छोटे-मोटे झूठा में सभी बोलते हैं वास्तव में हमारे  सामाजिक जीवन के ताने-बाने का हिस्सा हैं जबकि कुछ झूठ इनोसेंट होते हैं और महत्वपूर्ण पारस्परिक कार्यों को पूरा करते हैं 2 वहीं कुछ झूठ रिश्तो  को नुकसान पहुंचाते हैं और विश्वास को नष्ट करते हैं 3 अन्य कुछ झूठ अजीब स्थितियों को सुलझा ने किसी के ईगो को सेटिस्फाई करने या किसी से उम्मीद बनाए रखने के लिए बोले जाते हैं।

baccha 

इसी प्रकार छोटे बच्चों में झूठ बोलै  जाना या मनगढ़ंत कहानी बनाना नॉर्मल है , घबराएं नहीं। लेकिन किशोर होने पर जिन चीजों के लिए झूठ बोला गया है वह गतिविधि चिंता का विषय हो सकती है उस पर ध्यान केंद्रित करें की किशोर या टीनेजर क्यों झूठ बोल रहे हैं और उसका उचित सल्यूशन  करें और झूठ बोलने की मूल कारण माता-पिता को खुश करने के लिए और बिना कारण ही ऐसे  झूठ बोलने की आदत को ठीक करने के कुछ उपायकरे। 


बच्चों और किशोरों के झूठ बोलने के तीन मूल कारण :डर ,माता पिता को खुश करने के लिए ,बिना कारण के ऐसे ही झूठ बोलना। 

bccha
 
जल्दी  से हल्की फुल्की सजा सुना दे  

बच्चों में झूठ बोलने की आदत को कम करने का एक कारगर उपाय है। एक उदारहण से समझते हैं। मान लीजिए आपको अपने बच्चे के कमरे से महंगे  फूलदान के गिरने की आवाज आई और जब आप कमरे में पहुंचे तो बच्चे को हाथ में क्या हुआ पता नहीं कितनी गंभीर मिलेगी तो झूठ बोलकर बचने की कोशिश करेंगे , इसके बजाय आराम से बात करेंगे ,सच -सच बताने की कोशिश करेगा। 

bccha

2 खुद का उदाहरण पेश करना 

खुद भी जाने -अनजाने बच्चों के सामने कई छोटी-बड़ी बातों पर झूठ बोलते हैं।  बच्चे इसी से सीखते हैं बच्चों के साथ अपने स्वयं के व्यवहार पर भी नजर रखें। इस आदत को बच्चों में बढ़ने  से रोका जा सकता है। माता पिता अपने आपको बार-बार याद दिलाएं कि उनकी सभी आदत नहीं अच्छी और बुरी दोनों आदते बच्चों पर बुरा असर डालती है। 

bccha

3  कारण पूछना 

यदि आपका बच्चा किसी बात को बढ़ा-चढ़ाकर पेश कर रहा है, तो आप पूछ सकते हैं, ‘जो आप मुझे बता रहे थे, उसमें वास्तव में मेरी रुचि थी, लेकिन फिर ऐसा लगा कि आपने इसमें ऐसी चीजें जोड़ना शुरू कर दिया, जो सच नहीं थीं। क्या आप मुझे बता सकते हैं कि आपने ऐसा करने का फैसला क्यों किया?’वही एक रिसर्च में सामने आया हैं कि झूठ बोलने वाले बच्चे अच्छे याददाश्त के मालिक होते हैं।  झूठे बच्चे  की याददाश्त बड़ी तेज होती है  अगर  आपका बच्चा झूठ बोल रहा है तो संभव है कि वह अच्छी याददाश्त का मालिक है अब आपको इस की प्रतिभा को सही और मोड़ने की जरूरत है।