Movie prime
बादाम -अखरोट खिलाकर नहीं ऐसे बढ़ाये बच्चे का आईक्यू लेवल
 

हर  माता-पिता चाहते हैं कि उनका बच्चा पढ़ने लिखने में होशियार होने के साथ-साथ आईक्यू लेवल वाला भी हो बच्चे को स्मार्ट और इंटेलिजेंट बनाने के लिए  शुरू से ही अपने बच्चों को बादाम ,अखरोट और कभी च्यवनप्राश खिलाते  हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि बच्चों का स्मार्ट होना और बच्चों का आईक्यू लेवल बढ़ाना दोनों में अंतर होता है आईक्यू या इंटेलिजेंट कोशिएंट एक ऐसा गुण है, जो एक बच्चे को दूसरे बच्चों से अलग बनाता है  वही आईक्यू  में सुधार करने की कोई उम्र नहीं होती आज हम आपको बताते हैं कि कुछ टिप्स फॉलो करके में कैसे सुधार कर सकते हैं। 

rt

 दिमागी विकास के लिए बच्चे को कोई भी इंस्ट्रूमेंट इंस्ट्रूमेंट बजाना सिखाएं यह एक बढ़िया एक्टिविटी हो सकती है इस एक्टिविटी से ना सिर्फ बच्चे का आईक्यू  लेवल बढ़ेगा बल्कि मैथमेटिकल स्किल भी बढ़ती  है इसके लिए आप अपने बच्चों को गिटार ,सितार ,हारमोनियम जैसे कोई भी वाद्य यंत्र बनाने बजाना  सिखा सकते हैं। 

rt

ओमेगा 3 फैटी एसिड बच्चों के लिए अच्छा होता है दरअसल ओमेगा 3 बच्चों के दिमाग के विकास में बहुत मदद करता है यदि बच्चे के शरीर में  डीएचए  का स्तर कम है तो इससे याददाश्त और पढ़ने की क्षमता भी प्रभावित होती है इसलिए अपने बच्चों के डाइट में  ओमेगा 3 फैटी एसिड जरूर शामिल करें। 

rt

डीप ब्रीथिंग  सबसे अच्छे दिमागी हेक्स में से एक है गहरी सांस लेने से मन में अच्छे विचार पैदा होते हैं इसके अलावा बच्चे को हर चीज में फोकस करने की शक्ति बढ़ती है इसलिए नियमित रूप से रोजाना सुबह या शाम 10  से 15 मिनट बच्चों को गहरी सांस लेने काअभ्यास  जरूर करवाएं बच्चों का आईक्यू लेवल बढ़ाने के लिए उनके साथ दिमाग तेज करने वाले खेल खेलने से बच्चों का मानसिक विकास करने में मदद करते हैं ।